Monday, March 14, 2022

कहानी- वन अरेंज्ड मर्डर। One Arranged Murder Book Summary। Story Telling।

कहानी- वन अरेंज्ड मर्डर। One Arranged Murder Book Summary। Story Telling।

   दोस्तों, शादियों का सीजन शुरू हो गया है। हर दिन किसी ना किसी रिश्तेदार, दोस्त या पहचान में शादी कि खबरें आप तक आती होगी। भारत की इतनी बड़ी आबादी में रोज हर किसी ना किसी की शादी हो रही होगी। सोचिए एक शादी का जोड़ा कितना खुश, कितना एक्साइट (excite) होता है। अगर वही जोड़ा अरेंज्ड मैरिज (Arrange Marriage) का हो तो खुशी और Excitement तो कई गुना और बढ़ता है। अरेंज्ड मैरिज में दूल्हा और दुल्हन दोनों अपने सपनों को सजाने के, भविष्य को खूबसूरत बनाने के सपने देखते है। लेकिन इस प्यारे रिश्त को, उनके लम्हों को किसी की नजर लग जाए और उनका खूबसूरत सा बनता रिश्ता अगर अधूरा रह जाए तो?
   आज ऐसी ही एक कहानी को आपके साथ साझा करूंगा,लेकिन पढ़ने से पेहले बता दु की कहानी की तरह ये पोस्ट भी आपको सिर्फ अधूरी ही जानकारी देगी....!

   ये कहानी है दो दोस्तों की- सौरभ और केशव। जो इस कहानी के नायक है और महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। सौरभ Matrimonial Site (वैवाहिक सूचक वेबसाइट) से प्रेरणा नाम की लड़की पसंद करता है। जो उसी की तरह खाने की शौकीन होती है, दोनों की healthy भी जोड़ी इसी बात पर तो बनती है। सौरभ और केशव दोनो दोस्त इंजीनियर थे और Cyber Security कंपनी में काम करते थे। वही प्रेरणा खुद का Food Selling स्टार्टअप अपने पार्टनर के साथ चलाती थी। प्रेरणा की पार्टनर का नाम नम्रता था।

कहानी। वन अरेंज्ड मर्डर। One Arranged Murder। Story Telling।

   प्रेरणा और सौरभ दोनों एक दुसरे में खोने लगे थे, प्यार के परवान चढ़ने लगे थे। इसी बीच करवाचौथ के मौके पर प्रेरणा ने उपवास रखा था। चांद के निकलते ही उपवास खोलते समय जल्दी हाजिर होने के लिए सौरभ जल्दी से निकलता है। चलते चलते प्रेरणा के साथ बाते करते हुए वो ट्रैफिक को पार कर प्रेरणा के घर की छत पर पहुंचता है। वहा खाली छत को पाकर वो समझ ही नही पाता, लेकिन रास्ते की ओर जब वो देखता है तो शॉक्ड हो जाता है। रास्ते पर प्रेरणा का शव (Body) पड़ा दिखता है...! बेहद ही खूबसूरत पल अचानक से मातम बन जाता है। इसी पल से कहानी में twist आने लगता है और कहानी रोमांचक बनने लगती है।
   पहले पहल ये एक साधारण सा Accident लगता है, माना जाता है। पुलिस के आने पर तहकीकात शुरू हो जाती है। प्रेरणा के घर मे उसके माता-पिता, एक बूढ़ी दादी रहती थी। साथ मे अविवाहित बुआ और चाचा भी रहते थे। उनके अलावा घर में एक नौकरानी और Driver भी था। प्रेरणा की मौत के बाद उसकी अमेरिकन बुआ की लड़की भी घर मे आती है। इन लोगो के अलावा घर का होने वाला जमाई- सौरभ भी आज मौजूद था। पुलिस एक एक करके छान बिन शुरू कर देते है। वही दूसरी ओर सौरभ और केशव भी अपनी और से तहकीकात शुरू करते है। आपको बताना रह गया, सौरभ और केशव अपने Cyber Security कंपनी के जॉब के साथ खुद की Detective Agency भी चला रहे थे। तहकीकात में घर और बिज़नेस के काफी राज सामने आते है।

   सौरभ और केशव को पता चलता है कि प्रेरणा के मौत के समय प्रेरणा की बिज़नेस पार्टनर नम्रता और प्रेरणा का पहला प्रेमी दोनों का मोबाइल नेटवर्क उसी एरिया में ऐक्टिव था। ठीक मौत के समय प्रेरणा के पिताजी घर से बाहर गए थे। पुलिस से तहकीकात आगे बढ़ती ना देखकर केशव और सौरभ खुद इन्वेस्टिगेशन में घुस जाते है। जिसके लिए वो प्रेरणा के घर मे रहने जाते है। सबसे पहला शक जाता है- प्रेरणा के नाराज चाचा पर। जो प्रेरणा के पिताजी से खुश नही थे और साथ मे उन्हें नशे की भी लत लगी थी। घर मे रहते हुए दोनों दोस्त चाचा के कमरे में छानबीन करते है और छानबीन में उन्हें प्रेरणा की Engagement Ring मिलती है। तब शक पूरी तरह से confirm होता है कि प्रेरणा का मर्डर हुआ था और उसमे चाचाजी का हाथ है। लेकिन उसके बाद जब पुलिस चाचा को पकडने आती है तो चाचा की लाश उनके कमरे में पायी जाती है। फिर से तलाश Dead End की ओर जाती दिख रही थी। आगे कहानी में ट्वीस्ट तब आता है जब केशव और सौरभ प्रेरणा के स्टार्टअप एकाउंट की जांच करते है। Account Statement के अनुसार प्रेरणा की मौत के बाद 50 करोड़ की रकम प्रेरणा के पिताजी के एकाउंट में ट्रांसफर की जाती है।

   केशव और सौरभ को तहकीकात में प्रेरणा के पिताजी का कर्जे में डूबे बिज़नेस का पता चलता है। साथ ही फैक्टरी की गड़बड़ी, केस बंद कराने की चल रही कोशिशों से शक की सुई प्रेरणा के पिताजी पर जा रुकती है। इसी बीच Unmarried बुआ और अमेरिकन बुआ की लड़की से फैमिली का ऐसा राज पता चलता है कि जिससे दोनों दोस्त लगभग confirm हो जाते है। उसी शक के दायरे में प्रेरणा की बिज़नेस पार्टनर नम्रता भी आती है, जो प्रेरणा के मौत के समय आसपास मौजूद थी। अगर यहा तक आप ने गौर से पढ़ा होगा तो आपको याद होगा, प्रेरणा के मौत के समय एक और इंसान वही पर मौजूद था। प्रेरणा का Ex-Boyfriend...

   तो दोस्तों, क्या लगता है आपको किसने किया होगा प्रेरणा का मर्डर? या फिर ये सिर्फ एक महज इत्तेफाक था...। शक के घेरे मे है-

चाचाजी- प्रेरणा में चाचाजी, जिनके कमरे में प्रेरणा की Engagement Ring मिली थी। लेकिन पुलिस तहकीकात से पहले अचानक उनकी मौत हुई थी।

पिताजी- जो मौत के समय घर से बाहर निकले थे। साथ ही प्रेरणा के मौत के बाद उन्होंने एक बड़ी रकम अपने एकाउंट में ट्रांसफर कर ली थी।

नम्रता- प्रेरणा की बिज़नेस पार्टनर नम्रता, जिसने उसकी मौत के बाद 50 करोड़ की मोटी रकम प्रेरणा के ही पिताजी को ट्रांसफर की थी। वो मौत के समय उसी एरिया में मौजूद थी।

Ex-Boyfriend- प्रेरणा का पहला प्रेमी भी उस शाम मौत के समय प्रेरणा के घर के नजदीक था। जिसे छोड़ प्रेरणा सौरभ के साथ शादी कर रही थी।

Unknown- या फिर कोई और ही जो अभी तक शक के दायरे में नही आया था। घर का वो राज भी हो सकता है जो बुआ और अमेरिकन बुआ के लड़की ने बताया....!

   दोस्तों, इस कहानी का अंत और इसके रोमांच के लिए आपको पढ़नी होगी पूरी किताब। जो लिखी है भारत के बेस्ट सेलर लेखक चेतन भगत जी ने और किताब का नाम है- One Arranged Murder। आप इस blog से किताब की रोचकता का अनुमान लगा सकते है। चेतन भगत जी की अन्य रचनायें काफी प्रचलित है। जिनके आधार पर "काई पो चे", "2 स्टेट्स", "हाफ गर्लफ्रैंड" जैसी अनेक फिल्मे भी बनी है। आपको किताब की स्टोरी आखिर तक बांधकर रखेगी और सभी भावनाओं को छू लेगी।
कहानी। वन अरेंज्ड मर्डर। One Arranged Murder Book Summary। Story Telling।

   किताब को पढ़ने लिए, इसे खरीदने के लिए क्लिक करे नीचे दिए links पर-
हिंदी- https://amzn.to/3KJigsq
मराठी- https://amzn.to/3vY0g9s

   आशा करता हु आपको ये पोस्ट पसंद आया होगा। आगे भी किताबों की और मोटिवेशनल पोस्ट से आपको पढने को और जिंदगी में आगे बढ़ने को प्रेरित किया जाएगा। तब तक

पढ़ते रहिए, आगे बढ़ते रहिए।

Wednesday, March 2, 2022

पैसों का पेड़। How To Motivate Yourself। Money Plant।

 पैसों का पेड़। How To Motivate Yourself। Money Plant।

पैसों का पेड़। How To Motivate Yourself। Money Plant।

   दोस्तों, बचपन में आपने वो Dialogue तो सुना ही होगा की "पैसे पेड़ पर नही लगते"। मैं भी खुद बचपन मे अगर घर की Light बेवजह जलाता था, या फिर कभी TV ज्यादा देर रात तक देखता था। या अगर कभी ज्यादा या बेवजह पैसे खर्च करता तो घर वाले डांट देते और कहते कि पैसे की इज्जत करो। क्योंकि "पैसा पेड़ पर नही लगता" है। शायद ऐसा आपके साथ भी हुआ हो..! अब हम Indians तो बचपन से ही अपने माँ-पिताजी के हर बात पर यकीन कर लेते है। अलग बात है कि कितने मानते है और कितने नही। लेकिन उनकी कही हर बात जहन में बैठ जाती है। जैसे समय के साथ समझ आने लगती है, तो उसी बात पर यकीन भी होता है कि " पैसे पेड़ पर नहीं लगते"। तो आइए इसी बात को लेकर आपको एक कहानी सुनाता हूँ- 

कहानी

पैसों का पेड़। How To Motivate Yourself। Money Plant।

   ये कहानी मैने YouTube पर सुनी है। नदी से थोड़ा दूर एक गांव बसता था। 200-400 लोगों का गांव था, जिसमे विकास और किशन नाम के दो 17-18 साल के दोस्त थे। गांव के लोगो को पानी के लिए नदी पर चलके जाना पड़ता था और साथ मे खेत खलिहान, मजदूरी का काम भी करना पड़ता था। पानी दूर होने की वजह से लोग काफी परेशान रहते थे। ऐसे ही एक दिन ये दोनों दोस्त फैसला करते है कि वो लोगो को पानी लाकर देने का काम करेंगे। बदले में लोग उन्हें 20 पैसे हर मटके का दिया करेंगे। कुछ लोग भी उनकी बातों से सहमत हो जाते है और उन्हें काम दे देते है। उनकी मजाक मस्ती में शुरू हुई बात से उनके पास पैसे आने लगते है।

   जब दोनों ने पानी लाना शुरू किया तो 10, 20, 30, .. मटके लाने लगे। पैसे की आस में अच्छा काम भी करने लगे और गांव के 10-15 घरों को राहत भी मिली। ऐसे करते करते 5 साल बीत गए। इन 5 सालो में उनकी गृहस्थी भी बस गयी और काम भी ठीक रोजाना चल रहा था। अचानक से गांव में बीमारी फैल जाती है, लोगो की दुआओं से विकास और किशन बीमार नही पड़े। लेकिन इसी बीच विकास सोचने लगा कि अगर किसी दिन वो बीमार पड़ गया तो उसकी आमदनी बंद हो जाएगी। ऐसे में उसकी गृहस्थी भी खराब हो जाएगी। यही बात वो किशन को बताता है। लेकिन आदत के अनुसार वो इस बात को मजाक में उड़ा देता है। साथ ही में बेफिकर होकर परेशान ना होने की सलाह देता है। जो चल रहा है उसे चलने देने को कहता है।

पैसों का पेड़। How To Motivate Yourself। Money Plant।

   उस वक्त विकास कुछ कहता नही। लेकिन वो बात उसके दिमाग मे घर कर जाती है। एक दिन वो किसी दूर के गांव काम के सिलसिले में चला जाता है। गर्मी की वजह से पानी को तलाशता है। एक कुम्हार के पास पानी पीने बैठते ही उसे पास बना मटका दिख जाता है। उस मटके से पानी निकालने के लिए एक सुराही, एक नली बनाई गयी थी। जिस वजह से बिना मटके में हाथ डाले, पानी उस नली से लिया जा सकता था। विकास मिट्टी की उस नली की जानकारी लेता है और उस नली को बडे रूप में कैसे बनाया जाए? उसकी पूछताछ करता है। तो कुम्हार उसे समझाता है। विकास एक दिन उसके यहा रुककर, उसे शिक्षा के पैसे देकर पूरी जानकारी ले लेता है। दूसरे दिन एक बड़े इरादे से घर के लिए निकलता है।

पैसों का पेड़। How To Motivate Yourself। Money Plant।

   गांव आते ही वो ये बात किशन को बताता है। लेकिन किशन इस बार भी उसको मजाक में उड़ा देता है। विकास फिर अकेला ही उस काम मे लग जाता है। 10 दिन की जी-तोड़ मेहनत के बाद नदी से गांव तक एक बंद नाली बनाता है। नदी के ओर पानी की एक बड़ी सुराई बनाता है। दूसरी और गांव में छोटा सा पानी का हौद बनाता है। अब उसकी पानी चलकर लाने की मेहनत बच जाती है औऱ अब वो पूरे गांव को पानी दे सकता था। ऐसे में वो अपने पानी पहुचाने के दाम 10 पैसे कर देता है। जिस वजह से पूरा गांव उससे पानी लेने लगता है। किशन के पास से जो पानी लेते थे, वो भी अब विकास से ही पानी लेने लगे और किशन अब बेरोजगार हो जाता है। इसी उपाय से वो नजदीकी गांव में भी अपना काम बढ़ाता है। अपने मिले हुए पैसों से बैल खरीदता है और कुआं भी नदी के पास जमीन लेकर खोदता है। अब वो पानी बैल के मदत से ज्यादा निकाल पाता था और हर गांव में पानी पहुंचा पाता था। इसी तरकीब से वो अपने आसपास के गांव में सबसे अमीर आदमी भी बन जाता है।

पैसों का पेड़ (Paiso ka Ped)

इस पूरी कहानी में वो नाली क्या थी? वो थी पैसों का पेड़। अब आप कहोगे ये कैसे?

पैसों का पेड़। How To Motivate Yourself। Money Plant।

जब दोनों दोस्तो ने काम शुरू किया था, तो वो सिर्फ मेहनत कि जोर पर कमा सकते थे। लेकिन जब विकास ने नाली बनाने का सोचा, तो वो था पैसो के पेड़ का बीज। जो बाकी की गांव में भी वो पानी की नाली बनाई, वो थी पेड़ की शाखाएं। इसी नाली के साथ वो पानी पहुंचाता और पैसे कमाता था। तो आप बताये क्या ये पैसो का पेड़ नही था? 

How To Motivate Yourself-

   तो अब हर कोई चाहेगा कि वो भी पैसों का पेड़ लगाए। आप भी चाहते है या नही? अगर चाहते है तो क्या करना पड़ेगा? सोचिये जरा.!!

पैसों का पेड़। How To Motivate Yourself। Money Plant।

  आसान है.! आपको आपके काम का बीज बोना पड़ेगा। आपके पास हजारों Ideas होते है, जरूर होते है। किसी Idea को शुरू करने के लिए ज्यादा पैसे लगते है, तो कोई idea को शुरू करने के लिए कम पैसा लगता है। अगर आप भी Sure है अपने Idea को लेकर तो फिर देर किस बात की? इंतजार मत कोजिये। दोस्त मजाक उड़ाएगा, पडोसवाला या रिश्तेदार क्या सोचेंगे? उसकी फिकर मत करिए। बस अपने Idea को execute करे और शुरू करे। क्योंकि जब तक शुरू करेंगे नहीं, तब तक कुछ होगा नही। Tata, Ambani एक दिन में नही बड़े बने है। उन्होंने कही से तो शुरुआत की थी, बिना संकोच के, अब ये बात सब जानते है। लेकिन इस को समझता कोई नही।

   जो भी आपकी idea होगी, उसे शुरू कर दीजिए। Shop शुरू करना है तो अपने पास की पूंजी से शुरू करे। YouTuber, Writer, Blogger जो कुछ आपके दिमाग मे है, उसी को शुरू करने के लिए पहल कर दीजिए। क्योंकि अब रुक गए तो शायद बाद में कभी शुरू ही ना हो।

पैसों का पेड़। How To Motivate Yourself। Money Plant।

   शुरूआत करने के लिए आप कही क्लास कर सकते है। किताबें जो सबकी दोस्त होती है, वो आपको सहायता करेंगे। लेकिन शुरू करे और पूरा होने तक रुकिये नही।


   इसी के साथ आज का ये लेख पूरा करता हु। आशा करता हु की मेरी कोशिश को आप समझे होंगे। इस लेख को पढ़ने से शायद आपके दिल मे खयाल आया होगा। कुछ शुरू करने idea आया होगा तो बेझिझक शुरू कर दे, पूरी तैयारी के साथ। आपको ये लेख पसंद आया हो तो इसे share जरूर करे, ताकी बाकी लोग भी Motivate हो सके , Inspire हो सके। जल्द मिलेंगे एक और लेख के साथ, तब तक-

◆ पढ़ते रहिए, आगे बढ़ते रहिए। ◆

Monday, February 28, 2022

स्त्री- जीवन की प्रेरणा स्त्रोत। How To Motivate Yourself From Woman in Hindi। Stree- Jivan ki Prerana।

स्त्री- जीवन की प्रेरणा स्त्रोत। How To Motivate Yourself From Woman in Hindi

How To Motivate Yourself From Woman in Hindi

   दोस्तों, Motivation या Inspiration हमे आगे बढ़ने के लिए उम्मीद देते है, हमे बढ़ावा देते है। लेकिन कई बार सवाल आता है कि ये Motivation मिलेगा कहा से? अब हर कोई book या hobbies तो follow नही करेगा। तो ऐसे मे करेंगे क्या?
आज इसी सवाल का जवाब देने का मैं प्रयास करूंगा। Motivation सिर्फ किताबो से, पसंदीदा चीजो से थोड़ी न मिलता है! हम अपनी आसपास की परिस्थितियों को जानकर, समझकर भी तो Motivate हो सकते है। इसलिए आज जानेंगे प्रेरणा की उस स्रोत को जो आपके घर मे ही मौजूद होता है। वो है आपके घर की स्री- "How To Motivate Yourself From Woman in Hindi?"

प्रेरणा का स्रोत घर मे (Motivation at Home):-

   स्री, नारी, औरत, महिला इन अनेको नामों से उनको पहचाना जाता है। माँ, बीवी, बहन जैसे करीबी रिश्ते से सजाया जाता है। दोस्तों, स्री से जीवन की कठिनाइयों से आगे बढ़ने के लिए Motivation लिया जाए तो आप कभी उम्मीद नही खोयेंगे- "You Will Never Lost Hope" लेकिन कैसे? ये बताने से पहले में थोड़ी इनकी कहानी सुनाना चाहूंगा, जिससे Motivation अच्छे से समझा पाऊंगा।


   घर मे माँ या Wife के रूप में स्री रहती है। जो गांव में होगी तो खेती करती मिलेगी, या मजदूरी करती मिलेगी। शहर में होगी तो Job करती मिलेगी या Part Time Job करते मिलेगी और कही पर सिर्फ घर मे House Wife रहेगी। ये सभी, दिन की शुरुवात से काम शुरू करती है। घर के कामों से लेकर खाना बनाने तक, फिर खेती, मजदूरी या जॉब पर जाती है। शाम में घर आकर दोबारा खाना और घर का काम करती है। कितनी भी थकावट क्यों ना हो, कभी काम करने को मना नही करती। इन सब के बावजूद गलती से अगर वो बीमार हो जाती है, तो भी बाहर का नही लेकिन घर मे तो काम करती ही है। कहा से आती है इतना सब करने की ताकद, सब निभाने की ताकद? वो भी बिना शिकायत किये!!!
   दोस्तो दिनभर काम करके कितने पुरुष घर की स्री को शाम में किसी भी काम मे मदद करते है? शाम को पूरे दिन की थकावट के साथ घर तो आते सभी है, लेकिन आगे क्या? स्री और पुरुष गांव में दोनों काम करते है और अभी शहरो में भी ये आम बात है। लेकिन शाम को आकार आज भी गांव हो या शहर, स्री ही खाने से लेकर बाकी काम करती है। पहले के मुकाबले अब पुरुष भी काम मे साथ देने लगे है, मगर ऐसे पुरुष बहोत कम है। लेकिन उन में भी 50% से भी ज्यादा सिर्फ मजबूरी में ही हाथ बटाते है और ये सच्चाई है।

स्त्री- जीवन की सबसे बड़ी प्रेरणा (Stree- Jivan ki sabse badi Prerana):-

स्त्री- कैसे उनसे जीवन में प्रेरणा ले। How To Motivate Yourself From Woman in Hindi। Stree- kaise unse Jivan me Prerana le।

   दोस्तों, इतनी सारी मेहनत के बाद भी उनके चेहरे पर खुशी और संतुष्टि छलकती है, अगर कोई सिर्फ प्यार से तारीफ के दो बोल, बोल दे। यहा तक आपको लग सकता है कि उनके काम मे ज्यादा कुछ अलग नही है। मगर आपने कभी उनके मुश्किल दिनों में उनको शिकायत करते सुना है?
   शायद ये बात पढ़ने में, सोचने में आपको थोड़ी अलग लगे। लेकिन स्री- एक उम्र के बाद मासिक चक्र के उस भयानक तकलीफ से हर महीने गुजरती है। जिस दर्द को कोई पुरूष सहन नही कर सकता और उन्हें नौबत भी नही आती। ऐसे मुश्किल वक्त में भी घर की स्त्री अपने कार्यों को पूरा करती है। इतनी थकान के बावजूद घर मे सब के लिए खाना बनाती है, बाकी बहोत सारे काम करती है। फिर भी उन मुश्किल दिनों में भी कभी कोई complaint नही करती है। वो office में job पर भी जाती है और घर में सबकी मर्जी भी संभालती है। Office सब के जैसे उसे भी "कुछ आता नही" से लेकर, "अगर सुधार नही हुआ तो निकाल देंगे" तक कि बात सुननी पड़ती है। फिर भी कभी उसने घर के काम को नजर अंदाज नही किया होगा। घर जाने में late हुआ तो जल्दी खाना बनाने की जिम्मेदारी हो या फिर सुबह उठने में देर हुई तो सब काम निपटाकर On Time Office मे Log in करने की मशक्कत हो, उसमे कभी हार नही मानती। लेकिन कोई घरवाले बीमारी या मुश्किल दिनों में सिर्फ आराम करने का मौका देते है? इन सब कसरतों के बावजूद उनको कोई भी कभी घर मे शाबासी नही देता, उल्टा गड़बड़ हुई तो सुनाता है। कहा से आती है इतनी Dedication? इसी बात में हम सबको मिलता है एक Example, "True Motivational Story " का।

सीख:-

  तो यहा से हम अपनी कठिन समय मे मेहनत करने की सिख ले सकते है और उसी सिख से अपने आप को Difficult Situation से बाहर निकलने को उम्मीद दे सकते है। खुद को Motivate कर सकते है। चाहे Problems कितनी भी हो, कैसी भी हो। अगर वो हार नही मानती, अपने काम को नही भूलतीं, तो हम भी तो अपने Decided Goal की और बढ़ सकते है। दोस्तों, रास्ता जो चुन लिया है। उस पर बढ़ते रहेंगे एक ही विश्वास के साथ, तो हम चुनोतियों को पार कर सफल होंगे। तो आप हारोगे नही। अगर Fail भी हो शायद तो भी फिर लड़ने की उम्मीद नही गवाएंगे।

   दोस्तो इसी स्री को सम्मान देने की गुज़ारिश करता हु, और बताते हुए एक काव्य लिख-

" किसी की अगर माँ हो,
तो ममता का सागर हो तुम।"
"किसी की अगर बहन हो,
तो गलतियों को छुपाने का Secret Box हो तुम।"
"किसी की अगर दोस्त हो,
तो आगे बढ़ने का हौसला हो तुम।"
"किसी की अगर Wife हो,
तो जिंदगी भर का साथ हो तुम।"
"किसी की अगर बेटी हो,
तो खुशियों का पिटारा हो तुम।"
"किसी की अगर कुछ ना भी हो,
तो इस मिट्टी, इस देश की इज्जत हो तुम।"

   तो दोस्तो आशा करता हु की आज के इस लेख( How To Motivate Yourself From Woman in Hindi ) से आप को उम्मीद तो मिली होगी, मुझे comment कर के जरूर बताएं। साथ ही में मेरी अंत मे की गई कविता भी आपको पसंद आई होगी, ऐसी आशा करता हु।

अगर कोई बात आपको पसंद नही आई होगी, इसके लिए क्षमा चाहता हु और आपको पसंद आया हो मेरा विचार तो Share जरूर कीजिये और आगे पढ़ते रेहने के लिए Follow जरूर कीजिये।

★ पढ़ते रहिये। आगे बढ़ते रहिये। ★

Friday, February 25, 2022

इन्वेस्टमेंट जरूरी क्यों है? Why Investment is important? Investment jaruri kyu hai?

इन्वेस्टमेंट जरूरी क्यों है? Why Investment is important? Investment jaruri kyu hai?

इन्वेस्टमेंट जरूरी क्यों है। Why Investment is important। Investment jaruri kyu hai। Apna Thought

   आपने आलिशान घर या बड़ी प्रोपर्टीज खरीदने के सपने देखे होंगे। या फिर आपने ऐसी प्रोपर्टीज खरीदने का प्लान बनाया होगा। क्या आपने भी ऐसा कुछ सोचा है?
   रोबर्ट कियोसकी (Robert Kiyosaki) नाम के एक बेहद ही फ़ेमस लेखक(Writer) है। जिन्होंने व्यवसाय जगत मे आज नाम कमाया है। जब वे 12 साल के थे तब उनके दोस्त और दोस्त के पिताजी के साथ नई प्रॉपर्टी देखने गए। रोबर्ट के दोस्त माइक के पिताजी ने समुंदर किनारे एक बड़ी सी जमीन खरीदी ली थी। रोबर्ट को पता था कि माइक के पिताजी के पास इतना पैसा नही है, तो रोबर्ट ने उनसे पूछा कि आप कैसे इतनी बड़ी और महंगी जायदाद खरीद पाए? माइक के पिताजी बताते है कि उनकी तो हैसियत ही नही है और ना ही वो खुद उसे खरीद सकते है, लेकिन उनका बिज़नेस इसे खरीद सकता है!!!
   चौक गए आप? क्या आप जानते है कि क्या है वो राज? ये कोई चमत्कार नही है। बस एक छोटासा राज है जो सबको पता चलता है जिंदगी में, लेकिन कोई उसे आजमाते नही। वो राज है बिज़नेस और इन्वेस्टमेंट (Business and Investment)। तो चलिए जानते है आज के इस लेख में की क्यों? और कैसे? हम बिज़नेस और इन्वेस्टमेंट की सहायता से अमीर बन सकते हैं।

आपकी सैलरी कम क्यों लगती है? (Why Salary always Low?)-

इन्वेस्टमेंट जरूरी क्यों है। Why Investment is important। Investment jaruri kyu hai।

   दोस्तों, जब भी एक इंसान सैलरी पाता है। तो सबसे पहले उसे अपनी सैलरी से सरकार को इनकम टैक्स (Income Tax) देना पड़ता है। उसके बाद बचे हुए पैसों से उसे अपना खर्च उठाना पड़ता है। फिर भी उसके बाद के हर एक खर्च पर अलग से टैक्स देना ही पड़ता है। आप खुद सोच कर देखिए कि अगर आपको सैलरी ना मिली तो आप का जीवन कैसे चलेगा आपने सोचा? अभी 2020 में Lockdown हुआ, तब कितने लोगों को ये बात समझ आई होगी। लेकिन फिर भी जब से Lockdown खुल गया है। उसके बाद लोगों ने फिर से जॉब का सहारा लिया और पिछली सब बाते भूल गए।

बिज़नेस और इन्वेस्टमेंट के फायदे (Business and Investment Benefits)-

   दोस्तों, बिज़नेस की दुनिया मे टैक्स कुछ अलग होते है। जहा सैलरी मिलने पर आपको आमदनी पर टैक्स देना होता है, वही बिज़नेस में बिज़नेस के सारे खर्च करने के बाद प्रॉफिट(Profit) पर टैक्स देना होता है। अगर आपको नुकसान हुआ तो आपको टैक्स देना नही होता। लेकिन सैलरी में एक लिमिट के बाद आपको टैक्स देना ही पड़ता है।
   अन्य फायदों की बात करे तो बिज़नेस करने से आप आपके निर्णय खुद ले सकते है। आप के प्रॉफिट को अपने ही बिज़नेस को बढ़ावा देने के लिए उपयोग करेंगे तो आपका बिज़नेस और भी बढ़ता है।

◆ इंवेस्टिंग (Investing)-

   बचपन से आपको बचत की सीख दी जाती है। भारत के घर घर मे मोलभाव, बचत, जमा पूंजी की आदत सिखाई जाती है। उस बचत का उपयोग आप कही निवेश करने में कर सकते है। क्योंकि बचत को अगर आप निवेश नही करेंगे तो बचाई गई रकम की कीमत कम हो जाती है। वही आप उस कमाई को निवेश करते हो तो आपका पैसा आपको फायदा कमाकर देगा। अगर आप इन्वेस्टमेंट को सीरियसली फॉलो करेंगे तो आपकी खर्च की आदत पर भी लगाम लगेगा।

● 3 आदते जो आपको गरीब रखती है-

1) आपके इनकम से बेफिजूल खर्च करना।
2) इनकम से ज्यादा कर्ज लेकर बेफिजूल खर्च करना।
3) अपने इनकम को बढ़ाये बिना सिर्फ बचत से अमीर बनने का सपना देखना।

● 3 कदम जो आपको अमीर बनाएंगे-

इन्वेस्टमेंट जरूरी क्यों है? Why Investment is important? Investment jaruri kyu hai?

   दोस्तो अगर आप गरीब बनकर जीना नही चाहते। आप जीवन में बहोत ज्यादा अमीर बनना चाहते है। तो आपको 3 उपाय करने होंगे।

1) खुद पर इन्वेस्टमेंट करना- आज आपको अमीर बनना है, तो आपके पास 1 से ज्यादा इनकम के रास्ते होने चाहिए। इसलिए नई जानकारी, नए कोर्स, पढ़ाई से खुद की skills बढ़ाने होंगे।

2) बिज़नेस/इन्वेस्टमेंट का उपयोग करना- आपके skills बढ़ाकर उसी Knowledge की सहायता से आप खुद का व्यवसाय शुरू कर सकते है। या फिर आप इन्वेस्टमेंट कर सकते है, जिससे आप अपना भविष्य सुरक्षित कर सकतेहै।

3) अपने जॉब में ही अच्छा प्रदर्शन करे- स्किल्स बढ़ाकर, अपने Knowledge से जॉब पर आपके काम और प्रदर्शन को बेहतर बनाए। जिससे आपको नौकरी में ही एक अच्छी सैलरी मिल पाएगी। उससे आप कम से कम निवेश कर अमीर बनने की राह पर चल पड़ेंगे।

● गाईड टू इंवेस्टिंग किताब के बारे में ( Guide to Investing Book Information)

इन्वेस्टमेंट जरूरी क्यों है? Why Investment is important? Investment jaruri kyu hai?

   दोस्तों ये जानकारी आपको पसंद आई होगी, आपको समझ आई हो ऐसी आशा करता हु। लेकिन ये जानकारी पूरी नही है और आधी-अधूरी जानकारी जीवन मे हानिकारक होती है। ये जानकारी हानिकारक तो नही लेकिन आपको पूरा ज्ञान भी नही देती। उसके लिए आपको पूरी जानकारी कहा मिलेगी?
ये पूरी जानकारी आसान भाषा मे और बारीकी से आपको एक के द्वारा मिलेगी। Robert Kiyosaki द्वारा लिखी गई किताब "Guide to Investing" आपको बिज़नेस और बिज़नेस की दुनिया मे की जानेवाली इन्वेस्टमेंट की जानकारी देती है।


   "गाइड टू इंवेस्टिंग" ये किताब आपको इन्वेस्टमेंट की मानसिकता के साथ साथ उसके फायदे और रिस्क की जानकारी देती है। अगर आप किसी बिज़नेस को समझते है, उसमे निवेश करने पर होने वाले फायदे और धोके को संज्ञान में रखकर आप अच्छा फायदा कमा सकते है। एक अच्छा निवेशक बन सकते है, जिसके लिए आपको बिज़नेस की Knowledge होनी जरूरी है। अगर आप खुद बिज़नेस करते है और उसी में इन्वेस्ट करते है, तो आप अपना बिजनेस बुलंदियों तक ले जा सकते है। दुनिया का 90 प्रतिशत पैसा 10 प्रतिशत लोगों के पास है। अगर आपको भी उन 10 प्रतिशत लोगों में शामिल होना है तो आपको बिज़नेस में आगे बढ़ना होगा। अपने आप मे, बिज़नेस में निवेश करना होगा।

   आज की जानकारी आपको पसंद आई होगी ऐसी आशा करता हु। साथ ही आपको बिनती करता हु को आप "गाइड टू इंवेस्टिंग" ये किताब जरूर पढ़ें और जिंदगी में आगे बढ़े। इसके लिए पढ़ना जरूरी है। याद रखिये-
इंग्लिश- https://amzn.to/3JPbT6a
हिंदी- https://amzn.to/3InYEJw

◆ पढ़ते रहिए। आगे बढ़ते रहिए। ◆

Thursday, February 17, 2022

सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु- सीख क्या मिली आपको? (Lesson From Sushant Singh Rajput Death)

सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु- सीख क्या मिली आपको? (Lesson From Sushant Singh Rajput Death)

सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु- सीख क्या मिली आपको? (Lesson From Sushant Singh Rajput Death)

Death- 14th June 2020
   सुशांत सिंह राजपूत के Death के बारे में तो आपको पता ही होगा, जो Bollywood का उभरता हुआ सितारा था। उसके मृत्यु के बाद अखबारों से लेकर News Channel तक सिर्फ वो ही नजर आ रहा है। 3 months के बाद भी तहकीकात पूरी नही हुई, लेकिन बात जो मृत्यु से शुरू हुई थी। वो फ़िल्म जगत के ड्रग्स कनेक्शन (Drugs connection in Bollywood Film Industry) तक पहुंच गई है। आज के इस लेख में ना तो हम सुशांत की मृत्यु का पता लगाने वाले है और नाही ड्रग्स के बारे में कोई बात करेंगे। जैसे आप ने heading पढ़ी होगी, उसी के अनुसार हमे क्या सीखना है इस घटना से उसके बारे में बात करेंगे। तो सुशांत सिंह राजपूत की मृत्यु की घटना से सीख क्या मिली आपको (Lesson From Sushant Singh Rajput Death)?

सुशांत सिंग राजपूत के मौत का कारण(Sushant Sing Rajput ki maut ka reason)
  तो जैसे कि तहकीकात में बात सामने आई थी कि सुशांत सिंह राजपूत अकेले पड़ गए थे, उन्हें अपने Bollywood Carier को लेकर चिंता हो रही थी औऱ इसी अकेलेपन ने शायद खुदकुशी कर ली। इतने अच्छे Actor को ऐसा डर क्यों लगा होगा? जिसकी वजह से आम लोगो से लेकर VIP लोग भी सोच में हैं कि आखिर हुआ क्या? इतना अकेलापन क्यों? जिस इंसान  ने अपनी पिछली फिल्म छिछोरे(Chichhore Movie) में आत्महत्या ना करने की सीख दी आज वो ही ऐसे कदम उठाने पर मजबूर हो गया? दोस्तों इसका सीधा और Simple जवाब है कि अपने Future को लेकर ना-उमेद हो जाना, अपने आप को कम समझना या जो मुश्किल घड़ी आयी है उसमें से अपने आप को निकाल पाने को उम्मीद खो देना।



   दोस्तो, ना-उमेदी (Demotivate) इंसान कि हार का सबसे बड़ा कारण है। जीवन मे जीने की चाह, उम्मीद से आती है। अगर हम भविष्य की उम्मीद ही खो देंगे या फिर किसी काम मे सफलता की आशा को ही खो देंगे, तो फिर आप का सफल होना भी मुश्किल है और जीवन जीना भी। आपको आपके डर को हराना होगा, अपने हौसलो को बुलंद करना होगा। जो भी कारण हो आपकी उम्मीद खोने का उसे कैसे हम सुलझा सकते है,ये आपको ढूंढना होगा। हर Problem को सुलझाना मुमकिन नही है, ये तो हर कोई जानता है, तो करेंगे क्या?



कैसे निराशा को दूर रखें?(Kaise nirasha ko dur rakhe)-
   साथियों, अगर कोई बड़ी मुश्किल है, लाख कोशिशों के बावजूद आपको सुलझाने का रास्ता नहीं मिल पा रहा और अपने आप भी नही Solve हो रही है। तो ऐसे में थोड़ा आगे सोचिये, अगर जिसका डर है वो हो गया तो आगे के बारे में कुछ अलग रास्ता निकालिये। बेशक जीवन को खत्म करना ये रास्ता ना हो। क्योंकि जिंदगी एक खुबसूरत तौहफा है कुदरत का, जो हमे इंसान बनाया। हर किसी जीवित प्राणी के नसीब में ये नही था जो हमे मिला है। जैसे example लेते है, कोई office का target दिया है, तो उसे पूरा करने के बारे अलग अलग तरीके सोचो। फिर भी असफल रहे तो अगली बार और ज्यादा कोशिश करो। आपके सफल हुए सहकर्मियों से समझो। लेकिन बार बार कोशिशों के बाद भी असफल हुए और अगर निकल जाने का letter मिलता है , तो कोई और Job ढूंढ लेना। आपके सच्चे लगन से किये प्रयासों के बाद भी अगर असफलता आती है, तो जरूरी नही की खुद को कम समझे! हो सकता है आपका समय खराब हो या जो काम दिया है वो सच मे बहोत मुश्किल हो। लेकिन यहां पर आपको पता होता है को जो हुआ उसमे आपने आपका 100% दिया या नही। क्योंकि किसी को भी सफलता बेवजह, या मेहनत के बगैर नही मिलती।
   तो पढ़ने वालों से मेरी यही बिनती रहेगी की मुश्किलें कितनी भी हो हार मानना नही, उसमे से निकलने की राह ढूंढना और उसपर अमल कर के बाहर निकलना। किसी कारणवश असफल भी हुए तो आगे कुछ दूसरा प्रयास कर लेना । लेकिन जिंदगी को यू मायूसी में जीना, अपने आप मे कमी है कहकर हताश हो जाना या फिर जीवन को खत्म करना ये किसी भी तरह से सही फैसला नही है।

   आशा करता हु, जो मुझे बताना है वो अच्छे से मैंने समझाया होगा। अगर आपको अच्छा लगा तो आगे शेयर(Share) करे ताकि कोई एक भी इससे अपना भटका रास्ता फिर से पा लेगा तो लिखने का कार्य सफल हो जाएगा। अगर कुछ पसन्द ना आया तो उसके लिए क्षमा चाहता हु और आपके सुझावों की प्रतीक्षा करता हु।

Wednesday, February 16, 2022

खुद को प्रेरित कैसे करे? khud ko prerit kaise kare - How To Motivate Yourself in Hindi

 खुद को प्रेरित कैसे करे? khud ko prerit kaise kare,How To Motivate Yourself,in Hindi

How To Motivate Yourself in Hindi

● जिंदगी (Zindagi, Life)-
    दोस्तों जिंदगी में हर कोई निराश होता है और इस निराशा से निकलने के लिए खुद को motivate करना या motivate रहना जरूरी है। जिंदगी एक पहेली कही जाती है, जिसे जीने में आपको motivational videos और Inspirational Books या फिर आपकी favorite hobby आपको निराशा से बाहर निकालती है , ऐसा suggestion आपको हर कोई देता है। कूछ हद तक ये काम भी कर देता है। जैसे कोई inspiration book पढ़ने से आपको खुशी होती है।लेकिन ये सिर्फ आपको खुशी देती है, आगे बढ़ने की हिम्मत नही। अब आप कहेंगे कि बाकी लोग पागल थोड़ी है जो हर किसी को ऐसे suggest करते है। तो आइए आज इस पर एक अनोखी बात बताता हूं।


● जीवन की मुश्किलें (Jivan ki mushkile)

     Generally अपनी जिंदगी में हमे कौनसी मुश्किले आती है, किसी को job की problem, किसी को business की problem, तो किसी को Personal issue। इनमे से कोई नही तो दोस्तो Money Problem हर किसी को रहती है। तो क्या हर किसी problem में हम Videos और books से Motivate होंगे? जवाब है बिल्कुल नही। ऐसे में आपको सोचना होगा कि इसका हल क्या है? इसका रास्ता क्या है?

● परेशानियों का हल (pareshaniyon ka hal)

    जहा तक मैं समझता हूं, 99% दोस्तो को प्रॉब्लम का हल और उस तक पहुँचने का रास्ता पता होता है। 90% दोस्तों को अपनी प्रॉब्लम किस situation में solve होगी पता रहता है। तो आपको करना क्या है motivate रहने के लिए और problem को solve करने के लिए ? तो आसान जवाब है। जब कभी निराश होंगे,हताश होंगे तो खुद में भरोसा करना और positive रहना मुश्किल होता है। ऐसे में जो भी Motivational books and hobbies आप follow करते है, उसके साथ आप अपने आप को समझा दीजिये की आप भी तय किये हुए रास्ते से जीतकर दिखाएंगे।

अन्य पढ़े-
1)खुद को Motivate करने के लिए आप किताबें पढ़ सकते है। उसके लिए पढ़ना जरूरी है। 
जानिए भारत की साक्षरता के बारे में-पढ़ेगा इंडिया तभी तो बढ़ेगा इंडिया

    जो Motivational चीजे आप follow कर रहे है,उनमे बताया जाता है Trust , Faith और Positiveness. जब आप सोचेंगे कि मेरा रास्ता सही है, जिस पर चलकर में अपने Problem को हल करूँगा। साथ ही में पीछे देखिये की ज़िंदगी की किस मुकाम से आगे आपने शुरुवात की थी और अब इतना आगे आये है तो क्या ये Small Problem हमे आगे रोकेगी? तो plan करिये , Trust रखिये और positive attitude के साथ आगे बढिए।

● काव्यपंक्ति (kavya pankti, kavita)

लिखते हुए मेरी अंदर के कवि की एक बात लिखना चाहूंगा- 

की कुछ खोया है आपने ,

तो कुछ और पाने की उम्मीद रखिये...

जो पास है,

उसे संभालने की चाह रखिये ....

ठोकर लगेगी जरूर,

जरूर गिर पड़ेंगे आप,

मगर फिर भी उठकर चलने की हिम्मत रखिये...

क्योंकि ढलते सूरज के साथ

पंछी पीछे घोसलों में आते जरूर है,

लेकिन जब सूरज निकलता है,

तो उनकी ही उड़ान पर आप

अपने हौसलो की नीव रखिये।

तो दोस्तो अपने सपनो को Impossible ना समझे, जिंदगी में आने वालों Problems के सामने खुद को असहाय ना समझे। अपने आप पर भरोसा रखिये। आशा करता हु इसे पढ़कर आप खुद को motivate कैसे करे ये सीखे होंगे।

दोस्तों यह "How to motivate yourself" आपको कैसा लगा हमे Comment में जरूर बताइए, अपने Friends और Family को Whatsapp, Facebook, Twitter पर जरूर share करे। आपका ये लेख पूरा पढ़ने के लिए धन्यवाद!!

अगर आपका feedback देंगे तो मुझे आगे लिखने के लिए प्रोत्साहन मिलेगा। Positive feedback मुझे encourage करेगा और Nigative Feedback मेरी गलती दिखाएगा और आगे सीखने का रास्ता दिखायेगा। 😊

Tuesday, February 15, 2022

हिंदी। पढ़ेगा इंडिया तभी बढ़ेगा इंडिया। Motivation for reading books। Padhega India tabhi Badhega India

हिंदी। पढ़ेगा इंडिया तभी बढ़ेगा इंडिया। Motivation for reading books। Padhega India tabhi Badhega India

हिंदी। पढ़ेगा इंडिया तभी बढ़ेगा इंडिया। Motivation for reading books। Padhega India tabhi Badhega India

भारत की साक्षरता-
   आज भारत की 2020 में महासत्ता होने का सपना देख रहा है। अपनी Indian Economy को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने 2019-20 का बजट भाषण देते हुए कई बार देश को अगले पांच साल में 'फाइव ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी' (5 Trillion Dollar Economy) यानी 5 लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने की बात कही. जहा एक और राजनेता बडे बडे सपनों के साथ हमे अच्छी शिक्षा का वादा करते है। वही दूसरी और शिक्षा का स्तर गिरते हुए दिख रहा है। भारत की आजादी के 70 साल बाद भी भारत में शिक्षित लोगो की संख्या अभी भी काफी कम है। आज भी भारत में सिर्फ साक्षरता की बात की जाती है।
   अगर साक्षरता की ही बात करे तो अभी राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय (एनएसओ) के आंकड़ों पर आधारित एक रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में साक्षरता दर 77.7 फीसद है। जहां एक और भारत महासत्ता बनने का ख्वाब देख रहा वही दूसरी अभी की भारत का एक बड़ा हिस्सा सिर्फ साक्षरता से ही दूर है। अगर आने वाले भविष्य की ही बात की जाए और सबको शिक्षा भी मिलेगी इसकी सुविधा दी जाए। तो भी भारत की इतनी बड़ी आबादी को पढ़ाने का जिम्मा सरकार को और ताकद से निभाना पढ़ेगा। अब तो भारत मे Mobile Internet ने क्रांति लायी है। लेकिन इसी क्रांति के वजह से भारत के बच्चों को मोबाइल पर Games या फिर दूसरी चीजों की और बढ़ रहा है। भारत साक्षरता तो बढ़ रही है, लेकिन Education के बाद भारतीय नागरिक पढ़ना छोड़ देते है। जिस कारण उनका Knowledge नही बढ़ रहा है। आज के इस लेख में आपको किताबे पढ़ने के फायदों के बारे में कुछ जानकारी देना चाहूंगा।

किताबों की जरूरत - (Need of Books)-

1- शिक्षा (Education)-
   हमारी जिंदगी में किताबें सबसे अहम Role हमारी शिक्षा में निभाते है। School में कदम रखने के बाद से लेकर शिक्षा पूरी होने तक वो साथ निभाती है। हालांकि अभी शिक्षा के लिए Laptop और Mobile का उपयोग किया जाने लगा है, लेकिन वो बहोत कम है। किताबों की सहायता से सभी बच्चे पढ़ते है। विदेशों में आज शिक्षा की तकनीक पढ़ने-लिखने से आगे बढ़ गई है। लेकिन पढ़ना लिखना शिक्षा में आज भी जरूरी है, कल था और आगे भी रहेगा।

2- सामान्य ज्ञान (General Knowledge)-
   दोस्तों school, college की पढ़ाई के अलावा हमे सामान्य ज्ञान (General Knowledge) भी हम किताबों से लेते है। अभी Internet के जमाने मे ये काम Google और YouTube बड़ी खूबी से निभा रहा है, लेकिन फिर भी एक बड़ी आबादी जो आज भी इन तकनीकों से दूर है, वो किताबों का इस्तेमाल करते है। यही ज्ञान आपको पढ़ाई के बाद सरकारी नोकरी, MPSC, UPSC के लिए भी काम आती है।

3- मनोरंजन (Entertainment)-
   हम सबको फिल्में देखना पसंद होता है। आजकल तो Web Series का जमाना है। बच्चों में Cartoons बड़े famous है। ये सभी जो मजा देते है, वो मजा आपको किताबों में भी मिलता है। बहोत सी फिल्मे किताबो से ही बनायीं जाती है। वहाँ आपको काव्य, कथासंग्रह बहोत कुछ मिलेगा।

4- उम्मीद (Motivation)-
   कोई भी किताब आप पढोगे हास्य विनोद को छोड़कर, तो हर किताब आपको कुछ ना कुछ सिखाती है। हास्य विनोद की भी कई किताबें बहोत कुछ सीखा जाती है। जब कभी आप कमजोर पड़ते हो, जिंदगी में हारा हुआ महसूस करते है। तो ये किताबें आपको नई उम्मीद देते है। आपको नए ideas देते है। किताबों से आप जीवन मे प्रेरणा ले सकते है।

   दोस्तों बचपन मे पढ़ाई का शौक तो मुझे भी बहोत था, लेकिन Mobile और Internet की दुनिया, साथ ही पढ़ाई के बाद आई जिम्मेदारियों में सबकुछ भूल गया। लेकिन आज उसी जिम्मेदारी के साथ, Mobile और Internet की मदत से में फिर से अपनी hobby को पूरा करना शुरू किया है। अमेज़न किंडल (Amazon Kindle) की सहायता से आज मैं अपनी पढ़ने की चाहत को पूरा कर रहा हु। साथ ही में आशा करता हु की आप भी किताबों की दुनिया मे पैर रखिये। मनोरंजन या उम्मीद देने वाली किताबें पढ़े, मगर पढ़िए जरूर। क्योंकि

पढ़ेगा इंडिया, तभी तो बढ़ेगा इंडिया।

    आशा करता हु, आपको ये मेरा लेख पसंद आया होगा। आप share जरूर करे ताकी बाकी लोग भी पढ़ना शुरू करे। आपके विचार comment में जरूर बताये।
धन्यवाद।

◆ पढ़ते रहिए, आगे बढ़ते रहिए। ◆